Sahara News Today : सहारा इंडिया भुगतान में सहारा का ऑफिस और एजेंट की क्या भूमिका रहेगी

Sahara News Today : सहारा इंडिया भुगतान में सहारा का ऑफिस और एजेंट की क्या भूमिका रहेगी
Sahara News Today : सहारा इंडिया भुगतान में सहारा का ऑफिस और एजेंट की क्या भूमिका रहेगी

सहारा इंडिया एक बड़ी कंपनी है जहां पर देश के छोटे-छोटे निवेशक अपनी गाढ़ी कमाई इन्वेस्ट किए थे। वैसे तो देश के बहुत सारे लोगों का सहारा इंडिया में पैसा फंसा हुआ है लेकिन सिर्फ सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद 5000 करोड़ रुपए निवेशकों के हित में देने का फैसला लिया गया है।

माननीय अमित शाह जी के द्वारा यह बताया गया है कि 10 करोड सहारा निवेशकों का पैसा मिलेगा। लेकिन इसमें यह सवाल आ रहा है कि निवेशकों का पैसा कब मिलेगा? निवेशकों को भुगतान कराने में एजेंट और सहारा ऑफिस का क्या योगदान रहेगा? इसके साथ ही किन-किन निवेशकों का कितना पैसा मिलेगा सभी जानकारी यहां पर इस आर्टिकल में बताई गई है।

दोस्तों आपको बता दें कि सहारा इंडिया के द्वारा जो निवेशकों का पैसा फंसा हुआ था। इन सभी निवेशकों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है यहां पर सुप्रीम कोर्ट ने 5000 करोड़ रूपया पहले ही देने के लिए तय कर दिया है। लेकिन आपको बता दें कि सहारा इंडिया की बहुत सारी निवेशक हैं और सहारा इंडिया एक छोटी मोटी कंपनी नहीं है यहां पर निवेशकों के लाखों रुपए में पैसे फंसे हुए हैं ऐसे में 5000 करोड़ रूपया बहुत कम पैसा है। लेकिन आपको बता दें कि यह रकम उन सभी छोटे निवेशकों को दिया जाएगा जिन की रकम ₹5000 से ₹50000 तक फंसी हुई है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बताया जा रहा है कि 5000 करोड़ रूपया की मांग एक बार फिर से की गई है। हालांकि यह खबर अभी पूरी सबूत के साथ नहीं है लेकिन सहकारिता मंत्रालय के द्वारा एक बार फिर से निवेशकों को हित में 5000 करोड़ रूपया मांग को लेकर अदालत का दरवाजा खटखटाया है।

Sahara News Today

 जैसा की आप सभी को पता होगा ही कि सहारा एक छोटी मोटी कंपनी नहीं है और इसमें निवेशक से लेकर सहारा एजेंटों को भी बहुत ज्यादा फायदा हुआ करता था। सहारा एजेंट सिर्फ अपने कमीशन के लिए निवेशकों को एकजुट करते थे और उन्हें प्लान समझा कर सहारा कंपनी में जमा पैसा करवाते थे।

लेकिन जब सहारा के एजेंटों से बात किया गया तो मामला सामने आया कि सहारा के एजेंट बहुत परेशान हैं क्योंकि सहारा के जितने भी निवेशक हैं वह सहारा के एजेंट को परेशान कर रहे हैं कि उनका पैसा जल्द से जल्द दिलाया जाए।

जब से यह बात का खुलासा हुआ है कि 5000 करोड़ रुपए सहकारिता मंत्रालय के द्वारा निवेशकों के बीच बांटा जाएगा तब से सहारा के जितने भी निवेशक हैं वह एजेंट को परेशान करना शुरू कर दिए हैं। तो क्या ऐसे में सवाल उठता है कि सहारा एजेंट सहारा भुगतान में क्या भूमिका निभाएगा? आइए जानते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top