Sahara India Good News: खुश हो जाओ खुशखबरी है सहारा के सभी निवेशकों के लिए बहुत अच्छी खबर, सेबी के तरफ से, जल्दी देखिये

Sahara India Good News खुश हो जाओ खुशखबरी है सहारा के सभी निवेशकों के लिए बहुत अच्छी खबर, सेबी के तरफ से, जल्दी देखिये
Sahara India Good News खुश हो जाओ खुशखबरी है सहारा के सभी निवेशकों के लिए बहुत अच्छी खबर, सेबी के तरफ से, जल्दी देखिये

Sahara India Good News: सेबी ने दिसंबर में बैंक एवं डीमैट खातों को कुर्क कर दिया था। सेबी ने जून, 2022 में उनपर छह करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया था जिसका भुगतान नहीं होने पर वसूली की प्रक्रिया शुरू की गई।

Sahara India Good News

अगर आप सहारा के निवेशक हैं तो आपके लिए एक अच्छी खबर है। दरअसल, भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने बताया है कि वैकल्पिक तौर पर पूर्ण रूप से परिवर्तनीय डिबेंचर (ओएफसीडी) जारी करने में नियमों का उल्लंघन करने पर उसने सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉरपोरेशन, इसके प्रमुख सुब्रत रॉय और अन्य से 6.57 करोड़ रुपये का लंबित बकाया वसूल कर लिया है। ऐसा अनुमान है कि इस वसूली के बाद जिन निवेशकों को नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई अब की जा सकेगी।

Old Money Sell Offer: पुराने नोट और सिक्के का मिल रहा है लाखों, जल्दी खोजिये अगर आपके घर में है तो, यह खाश मौका है

Old Money Sell Offer: पुराने नोट और सिक्के का मिल रहा है लाखों, जल्दी खोजिये अगर आपके घर में है तो, यह खाश मौका है

सेबी ने दिसंबर में उपरोक्त संस्थान और व्यक्तियों के बैंक एवं डीमैट खातों को कुर्क कर दिया था। सेबी ने जून, 2022 में उनपर छह करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया था जिसका भुगतान नहीं होने पर वसूली की प्रक्रिया शुरू की गई थी।

आपको बता दें कि यह मामला सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉरपोरेशन और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन द्वारा 2008-09 में ओएफसीडी जारी करने से संबंधित है। इन्हें जारी करने में कुछ नियमों का उल्लंघन किया गया था।

Post Office Job Vacancy 2023: 10वीं पास के लिए निकली बंपर भर्ती भारतीय डाक विभाग में, यहाँ से भरे फॉर्म

Post Office Job Vacancy 2023: 10वीं पास के लिए निकली बंपर भर्ती भारतीय डाक विभाग में, यहाँ से भरे फॉर्म

सेबी के मुताबिक इन कंपनियों ने आम जनता से ओएफसीडी के लिए सब्सक्रिप्शन मांगा था और उन्हें जोखिमों के बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं दी थी। कथित तौर पर सेबी के आईसीडीआर (इश्यू ऑफ कैपिटल एंड डिस्क्लोजर रिक्वायरमेंट्स) रेगुलेशन और पीएफयूटीपी (प्रोहिबिशन ऑफ फ्रॉडुलेंट एंड अनफेयर ट्रेड प्रैक्टिसेज) के प्रावधानों का उल्लंघन किया गया था।

Government Action Urgent News: बस 5 दिन बचा है भारतीय लोगों के पास, उसके बाद जो होगा वो सोच भी नहीं सकते! इस सरकारी फैसले से

Government Action Urgent News: बस 5 दिन बचा है भारतीय लोगों के पास, उसके बाद जो होगा वो सोच भी नहीं सकते! इस सरकारी फैसले से

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top