RBI मौद्रिक नीति लाइव अपडेट: RBI MPC ने रेपो रेट को 6.5% पर अपरिवर्तित रखा

RBI मौद्रिक नीति लाइव अपडेट: RBI MPC ने रेपो रेट को 6.5% पर अपरिवर्तित रखा
RBI मौद्रिक नीति लाइव अपडेट: RBI MPC ने रेपो रेट को 6.5% पर अपरिवर्तित रखा

नई दिल्ली, 6 अक्टूबर 2023: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की मौद्रिक नीति समिति (MPC) ने शुक्रवार को रेपो रेट को 6.5% पर अपरिवर्तित रखने का फैसला किया। यह लगातार चौथी बैठक है जिसमें MPC ने रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है।

इससे पहले, MPC ने फरवरी 2023 में रेपो रेट को 6.25% से 6.50% तक बढ़ाया था।

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने MPC की बैठक के बाद कहा कि समिति ने रेपो रेट को अपरिवर्तित रखने का फैसला किया है, क्योंकि मुद्रास्फीति में गिरावट के संकेत हैं, लेकिन यह अभी भी ऊंचे स्तर पर है।

दास ने कहा कि MPC ने मुद्रास्फीति को नियंत्रण में लाने और आर्थिक वृद्धि को समर्थन देने के लिए एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाया है।

रेपो रेट वह दर है जिस पर बैंक RBI से अल्पकालिक उधार लेते हैं। रेपो रेट में बदलाव से बैंकों द्वारा उधार ली गई दरों में भी बदलाव होता है, जिससे अर्थव्यवस्था में उधार और खर्च प्रभावित होता है।

रेपो रेट को अपरिवर्तित रखने के फैसले से ब्याज दरें उसी स्तर पर बनी रहेंगी, जो उपभोक्ताओं और व्यवसायों के लिए राहत की बात है। इससे होम लोन, कार लोन और अन्य प्रकार के उधार की लागत में भी कोई बदलाव नहीं होगा।

हालांकि, यह ध्यान रखना जरूरी है कि रेपो रेट में बदलाव का प्रभाव तुरंत दिखाई नहीं देता है। इसमें कुछ समय लग सकता है कि बैंक रेपो रेट में बदलाव को अपनी उधार दरों में पारित करें।

विशेषज्ञों की राय

विशेषज्ञों का मानना है कि RBI ने रेपो रेट को अपरिवर्तित रखने का फैसला इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए किया है कि मुद्रास्फीति में गिरावट के संकेत हैं, लेकिन यह अभी भी ऊंचे स्तर पर है। इसके अलावा, RBI अर्थव्यवस्था की वृद्धि को समर्थन देना चाहता है।

विशेषज्ञों का यह भी मानना ​​है कि RBI अगली कुछ बैठकों में भी रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं कर सकता है, जब तक कि मुद्रास्फीति नियंत्रण में नहीं आ जाती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top